सारा संसार कहाँ से आया? कहाँ को जा रहा है?

आचार्य प्रशांत: हम एक भूत, माने एक पदार्थ की उत्पत्ति का कारण सदा दूसरे पदार्थ को मानते हैं और बात निपटा देते हैं। भूत माने मैटेरियल, भौतिक पदार्थ। जब आप एक भूत की उत्पत्ति का कारण दूसरे भूत को मानते हो और दूसरे की उत्पत्ति की वजह तीसरे को मानते हो, तो इसी को कहते हैं भौतिकता या मैटेरियलिस्म। आप कहते हो ये जो सब कुछ है अपने आप से ही आया है। एक चीज़ कहाँ से आई है? दूसरी चीज़ से। तो दुनिया में जो कुछ भी है वो कहाँ से…

--

--

आचार्य प्रशान्त - Acharya Prashant

रचनाकार, वक्ता, वेदांत मर्मज्ञ, IIT-IIM अलुमनस व पूर्व सिविल सेवा अधिकारी | acharyaprashant.org