वर्तमान दुर्बलताओं का कारण

आइंस्टीन, नीत्शे, विटगेन्स्टीन, श्रोडिंजर, फ्रॉयड, यंग, टॉल्सटॉय, बर्नार्ड शॉ, बेके: इन सबमें साझा क्या?

ये सब शोपेनहॉवर से प्रेरित थे।
और शोपेनहॉवर उपनिषदों को पूजते थे।

भारत में अपने अतीत और अध्यात्म को लेकर जितना अज्ञान व अपमान है,
वही हमारी वर्तमान दुर्बलताओं का कारण है।

--

--

आचार्य प्रशान्त - Acharya Prashant

रचनाकार, वक्ता, वेदांत मर्मज्ञ, IIT-IIM अलुमनस व पूर्व सिविल सेवा अधिकारी | acharyaprashant.org