ज्ञान प्राप्ति का मार्ग, और बाधाएँ

प्रश्न: आचार्य जी, क्या ज्ञान प्राप्ति के लिए कर्म अनिवार्य है? कर्म के अलावा ज्ञान प्राप्ति के कौन-कौन से साधन हैं? ज्ञान की प्राप्ति के मार्ग में बाधा क्या है?

आचार्य प्रशांत जी: ज्ञान की प्राप्ति का सबसे बड़ा साधन — तुम्हारी मुमुक्षा है। साधन तुमने कहा न। स्वयं आदि शंकराचार्य ‘साधन चतुष्टय’ बता गए हैं। उसमें न जाने कितने गुणों का उन्होंने वर्णन किया है, जो साधक में होने चाहिए। अगर साधक को परम-पद…

--

--

आचार्य प्रशान्त - Acharya Prashant

रचनाकार, वक्ता, वेदांत मर्मज्ञ, IIT-IIM अलुमनस व पूर्व सिविल सेवा अधिकारी | acharyaprashant.org