इंजीनियरिंग की पढ़ाई, और मन में दुविधाएँ

प्रश्न: आचार्य जी, मै इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहा हूँ। पढ़ने में अच्छा हूँ, अंक अच्छे आते हैं, पर पढ़ने में मन नहीं लगता क्योंकि पता ही नहीं है कि क्यों पढ़ रहा हूँ। अपने बारे में कुछ भी नहीं जानता, और दुनिया के बारे में जानने को मुझे कहा जा रहा है। समझ ही नहीं पाता कि क्या कर रहा हूँ और क्यों कर रहा हूँ।

कृपया मदद करें।

--

--

आचार्य प्रशान्त - Acharya Prashant

रचनाकार, वक्ता, वेदांत मर्मज्ञ, IIT-IIM अलुमनस व पूर्व सिविल सेवा अधिकारी | acharyaprashant.org